मध्यप्रदेश में EVM में छेड़कानी की कोशिश, 7 को पकड़ा, मच गया हड़कंप

loading...

बीजेपी शासित मध्य प्रदेश में हुए विधानसभा चुनाव के बाद ईवीएम में गड़बड़ी का मामला काफी गरमाया हुआ है। गौरतलब है कि कल मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजे आने वाले हैं। जिसके चलते ईवीएम की सुरक्षा को लेकर काफी कड़े प्रबंध किए गए हैं। जहां भारतीय जनता पार्टी एक बार फिर से राज्य में सरकार बनाने का दावा कर रही है। वहीं कांग्रेस बीजेपी की इस दावे को ईवीएम का कमाल बता रही है।

कांग्रेस ने ईवीएम की सुरक्षा को लेकर बरती जा रही लापरवाही पर सवाल खड़े किए हैं। खबर सामने आई है कि मध्य प्रदेश में ईवीएम संचालन में बरती जा रही लापरवाही को लेकर हाल ही में 7 कर्मचारियों को निष्कासित किया गया है। इसके साथ ही 10 कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस भी भेजा गया है। बताया जा रहा है कि सागर में स्ट्रांग रूम में मौजूद ईवीएम की निगरानी के लिए 5 सीसीटीवी कैमरे लगाने के निर्देश भी जारी किए गए हैं।

7 कर्मचारी हुए निष्कासित

loading...


इस मामले में अनूपपुर के मोहरी में ईवीएम बटन और चुनाव रजिस्ट्रार में दर्ज मतदाताओं के आंकड़े में अंतर पाया गया है। जिसके चलते वहां पर एक बार फिर से मतदान करवाया गया था। आपको बता दें कि इससे पहले ईवीएम को लेकर होटल में ठहरने वाले शुजालपुर के सेक्टर अधिकारी सोहन लाल बजाज के साथ अन्य दो कर्मचारियों को भी निष्कासित किया गया था।

चुनाव आयोग द्वारा उम्मीदवारों को नोटिस जारी


आपको बता दें कि चुनाव आयोग ने मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में लड़ रहे 532 उम्मीदवारों को समय पर निर्वाचन व्यय का हिसाब किताब पेश करने के लिए भी नोटिस जारी किया है। इसके साथ कुल 29 उम्मीदवारों में से 2367 उम्मीदवारों ने चुनाव आयोग को रिपोर्ट पेश कर दी है जबकि 532 उम्मीदवारों को नोटिस जारी किए गए हैं।

बीजेपी और कांग्रेस में होगी कड़ी टक्कर


आपको बता दें कि मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजे कल घोषित किए जाएंगे और इसके चलते भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस में काफी उत्साह भरा हुआ है। दोनों ही पार्टियां इस बार राज्य में सत्ता कायम करने का दावा कर रही हैं। लेकिन यह देखना दिलचस्प होगा कि जनता ने किसका साथ दिया है।

loading...