तेलंगाना में ओवैसी की बड़ी डिमांड, कांग्रेस ने दिया समर्थन, सदमे में आये शाह

loading...

हाल ही में हुए तेलंगाना विधानसभा चुनाव के बाद लोकसभा सांसद और ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी की डिमांड काफी बढ़ गई है। गौरतलब है कि तेलंगाना में हुए विधानसभा चुनाव काफी रोमांच भरे साबित हुए हैं। जहां एक तरफ कांग्रेस पार्टी ने गठबंधन के साथ चुनाव लड़ा वही बीजेपी ने भी इस चुनाव में जीत का पचम लहराने की कोई कमी नहीं छोड़ी। कांग्रेस, बीजेपी और एआईएमआईएम ने एक दूसरे को इस चुनावी दंगल में कांटे की टक्कर दी।

तेलंगाना विधानसभा चुनाव के बाद ये बन रहे सियासी समीकरण

आपको बता दें कि तेलंगाना विधानसभा चुनाव के नतीजे भी अन्य राज्यों के विधानसभा चुनाव के नतीजों के साथ घोषित किए जाने वाले हैं। लेकिन यहां पर नतीजों से पहले ही सरकार बनाने की कवायद शुरू हो चुकी है।

इस वक्त सभी राजनीतिक दल सत्ता कायम करने के लिए सियासी समीकरणों को जुटाने में जुट गए हैं।

तेलंगाना में बन सकती है त्रिशंकु विधानसभा

loading...


गौरतलब है कि तेलंगाना विधानसभा चुनाव के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी ने टीआरएस के साथ गठबंधन करने के संकेत दे दिए हैं।

दूसरी तरफ कांग्रेस पार्टी एआईएमआईएम के साथ हाथ मिलाने के मामले में सोच रही है। माना जा रहा है कि तेलंगाना में त्रिशंकु विधानसभा बन रही है।

ओवैसी की पार्टी निभा सकती है किंगमेकर की भूमिका


त्रिशंकु विधानसभा बनने पर असादुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन अहम भूमिका निभाने वाली है।

राजनीतिक विशेषज्ञों का कहना है कि एआईएमआईएम राज्य में सत्ता कायम करने वाली पार्टी के साथ अहम डील कर सकती है।

इसके साथ ही तेलंगाना विधानसभा चुनाव के एग्जिट पोल में आए आंकड़ों से यह माना जा रहा है कि राज्य में किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिलने वाली है

और अगर राज्य में मिलीजुली सरकार बनती है तो एआईएमआईएम टीआरएस और कांग्रेस के साथ मिल कर सरकार बना सकती है।

loading...