तीन त!लाक़ बिल के खि!लाफ़ सड़को पर उतरी मु!स्लिम म!हिलाएं, मोदी को दी खुली चु!नौती…

loading...

मोदी सरकार ने लोकसभा में तीन तलाक बिल पास करा लिया है, और भाजपा की तरफ से मुस्लिम महिलाओं के लिए यह बड़ी जीत बताई जा रही है, वहीं मीडिया में भी यह खबर चलाई जा रही है कि मुस्लिम महिलाओं को बड़ी जीत मिल गई है। लेकिन अभी तक यह बिल राज्य सभा में पास नहीं हो पाया है। राज्य सभा में विरोधी दल इस बिल का विरोध कर रहे हैं। वहीं अब इस बिल के खिलाफ मुस्लिम महिलाएं भी उतर आई हैं, और जगह जगह विरोध प्रदर्शन कर रही हैं, जब से इस मोदी सरकार इस बिल को लेकर आई है,

उसी वक़्त से मुस्लिम महिलाएं इस बिल का विरोध कर रही हैं, मुस्लिम महिलाओं का कहना है कि इस बिल से मुस्लिम महिलाओं पर ज़ुल्म बढ़ेगा, भाजपा मुस्लिम महिलाओं के साथ इंसाफ के लिए यह बिल लेकर नहीं आई है, बल्कि वह इस बिल के द्वारा सिर्फ सियासत कर रही है। तीन तलाक बिल को लेकर देवबंद से एक खबर आ रही है, वहाँ पर हकूक-ए-तहफ्फुज ख्वातीन मंच के बैनर तले तीन तलाक बिल के खिलाफ एक मार्च निकाला है, और इस मार्च में मुस्लिम महिलाओं ने कहा है कि हमें तीन तलाक पर मोदी सरकार का बिल किसी भी कीमत पर मंजूर नहीं हैं, मुस्लिम महिलाओं का कहना है कि हम इस बिल को रेजेक्ट कर रहे हैं,

हमें सिर्फ इस्लाम का कानून मंजूर है। और हम इस्लाम के कानून में तबदीली नहीं चाहते हैं। ईदगाह रोड पर पब्लिक गर्ल्स इंटर कॉलेज में इकट्ठी हुई मुस्लिम महिलाओं ने तीन तलाक बिल के खिलाफ आपण नाराजगाई जाताते हुए कहा है

इस बिल को हम मंजूर नहीं करते हैं, अगर यह बिल राज्य सभा में भी पास हो जाता है, तब भी हम इस बिल को नहीं मानेंगे। हम सिर्फ कुरान और इस्लाम का कानून ही मानेंगे।

loading...