Bhima Koregaon violence jignesh umar
Bhima Koregaon violence jignesh umar

सोमवार (1 जनवरी) को पुणे के पास स्थित भीमा कोरेगांव में दलित समाज के शौर्य दिवस के आयोजन पर भड़की जातीय हिंसा के कारण बुधवार (3 जनवरी) को महाराष्ट्र बंद का ऐलान कर दिया गया है। बता दें कि इस हिंसक झड़प में एक व्यक्ति की मौत हो गई है।

दरअसल, भीमराव आंबेडकर के पोते प्रकाश अंबेडकर ने हिंसा रोकने में नाकाम सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए आज महाराष्ट्र बंद का आह्वान किया है। अंबेडकर ने कहा कि 250 से अधिक दलित संगठनों का इस बंद को समर्थन है।

Download Our Android App Online Hindi News

वहीं, कोरेगांव भीमा जातीय हिंसा में दलित नेता व गुजरात के वडगाम से विधायक बने जिग्नेश मेवानी और जेएनयू देशविरोधी नारे के मामले से चर्चित हुए छात्रनेता उमर खालिद के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने के आरोप में शिकायत दर्ज कराई गई है। शिकायतकर्ताओं ने आरोप लगाया है कि जिग्नेश मेवानी और उमर खालिद ने कार्यक्रम के दौरान भड़काऊ भाषण दिया था जिसके चलते दो समुदायों में हिंसा हुई।

आपको बता दें कि महाराष्ट्र के पुणो में सोमवार को भीमा-कोरेगांव युद्ध की 200वीं सालगिरह पर हुई हिंसा की आग मंगलवार को राज्य के कई हिस्सों में फैल गई। इस बीच मेवाणी ने मंगलवार को ट्वीट कर लोगों से शांति और राज्य में कानून व्यवस्था बनाए रखने की अपील की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here