purvanchal sena distributed weapons

नई दिल्ली। चरमपंथी संस्थाएं देश का माहौल बिगड़ने में लगी रहती है, ऐसे ही एक ताजा मामला आया है जिसमे पूर्वांचल सेना नाम की हिंदूवादी संस्था ने मकर संक्रांति पर हिन्दू धर्म की रक्षा के लिए तलवारे बांटी है. बता दे कि पूर्वांचल सेना ने ही जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार के ख़िलाफ़ पोस्टर लगाए थे. जेएनयू में देश विरोधी नारे लगने के बाद सूना ने तत्कालीन अध्यक्ष आदर्श शर्मा ने कन्हैया को गोली मारने पर दस लाख रूपए का इनाम रखा था. आज भी कार्यक्रम के दौरान पूर्वांचल सेना के लोगों ने तलवार थाम कर देश को तोड़ने वाले लोगों को चेतावनी दी. साथ ही ये धमकी भी दी की अगर कोई देश तोड़ेगा तो ये तलवार उस पर चलेगी.

इस वर्ष देशभर में मकर संक्रान्ति का पर्व बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है. देश के अलग-अलग राज्यों में पतंग उड़ा कर इस पर्व को मनाया गया. किन दिल्ली के स्वरूप नगर में पूर्वांचल सेना के लोगों ने तलवार बांट कर मकर संक्रान्ति का पर्व मनाया. सेना ने पर्व पर करीब 40-50 तलवारें बांटी. शस्त्र पूजन का चलन आमतौर पर दशहरा पर रहता है लेकिन संक्रान्ति पर तलवार बांटना चौंकाने वाला है.

Download Our Android App Online Hindi News

इस संस्था के अध्यक्ष आदर्श शर्मा का कहना है कि तलवार इसलिए बाटा गया क्योंकि हम हिन्दू धर्म को बचाना चाहते हैं. पूर्वांचल के लोगों के लिए ही एकता के लिए ऐसा आयोजन करने का फैसला किया गया है. तलवार बांटकर संक्रान्ति मनाने के सवाल पर लोगों का कहना था कि जिस तरह से तिल-गुड़ खाकर और पतंग उड़ाकर मकर संक्रान्ति मनाते हैं उसी तरह आज हम तलवार बांटकर इस पर्व को मना रहें है. इस दौरान पूर्वांचल के कुछ गायकों ने गाने भी गाए और बच्चों से लेकर बुजुर्ग यहाँ मौजूद थे.

केंद्र और राज्य सरकारों को ऐसे कार्यक्रम पर रोक लगाकर तत्काल आयोजकों पर कार्यवाही करनी चाहिए जिसे देश में अमन और शांति बानी रहे. तलवारे बांटना एक गंभीर मामला है गृह मंत्रालय को इसे तुरंत संज्ञान में लेकर ऐसी संस्थाओं पर पाबन्दी लगनी चाहिए.

ये भी पढ़ें: मदरसों से आतंकी नहीं, बल्कि पूर्व राष्ट्रपति कलाम जैसी शख्सियत निकलती है- महंत राम दास

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here