PM Modi gave 2018 first interview
PM Modi gave 2018 first interview

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार(19 जनवरी) की रात हिंदी समाचार चैनल जी न्यूज़ को एक खास इंटरव्यू दिया। इस इंटरव्यू में  PM मोदी ने राजनीति, अर्थव्यवस्था, अंतराष्ट्रीय मसले,जीएसटी, नोटबंदी और रोजगार जैसे कई मुद्दों पर जवाब दिया।

वहीं, सोशल मीडिया पर इस वक्त प्रधानमंत्री मोदी के इंटरव्यू का वीडियो तेजी से वायरल हो गया है। इसके साथ ही ट्विटर यूजर्स द्वारा अपने इंटरव्यू को लेकर प्रधानमंत्री ट्रोल भी हो गए हैं। सिर्फ पीएम ही नहीं बल्कि उनके साथ न्यूज़ एंकर सुधीर चौधरी की भी खिंचाई की जा रही है।

Download Our Android App Online Hindi News

ट्विटर पर यूजर्स कह रहे हैं कि यह इंटरव्यू पूर्व निर्देशित लगा और इससे राजनेता और पत्रकार दोनों की छवि धूमिल होती है।

सोशल मीडिया पर यूजर्स कह रहे हैं कि इंटरव्यू लेने वाले एंकर के चेहरे से भक्ति रस टपक रहा था और ऐसा लग रहा था कि मानो पीएम के दर्शन करने से उनकी मनोकामना पूरी हो गई हो।

@pankaj_03 ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया कि इंटरव्यू देखकर ऐसा लग रहा था कि शो खत्म होने के बाद एंकर उठकर पीएम मोदी का पैर छूकर उनका आशीर्वाद ले लेंगे।

इसके अलावा एक अन्य यूजर ने ट्वीट कर कहा कि पीएम मोदी को बोरिंग इंटरव्यू देने की जगह प्रेस कॉन्फ्रेंस करनी चाहिए थी, जो कि उन्होंने पिछले 4 सालों में एक बार भी नहीं की।

वहीं बहुत से यूजर्स ने तो यह तक कहा कि प्रधानमंत्री को अब एनडीटीवी को अपना इंटरव्यू देना चाहिए और पत्रकार रवीश कुमार के सवालों का सामना करना चाहिए।

आपको बता दें कि दावोस जाने से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने जी न्यूज़ को दिए अपने इंटरव्यू में कहा कि प्रशासन बेहतर तरीके से काम कर रहा है, जिसकी वजह से तीन करोड़ 30 लाख गैस कनेक्शन बांटे गए, नीम कोटिंग यूरिया को अमली जामा पहनाया गया, स्वास्थ्य क्षेत्र में स्टेंट की कीमत कम करने में सफलता हासिल की गई।

इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि उनकी सरकार युवाओं के लिए रोजगार के अवसर पैदा करने के लिए भी लगातार काम कर रही है। प्रधानमंत्री बीमा योजना के तहत करीब 10 करोड़ लोगों को पैसे दिए गए, जिन्होंने खुद का व्यवसाय खोला और दूसरों को भी रोजगार दिया। इसके अलावा प्रधानमंत्री ने कहा कि उनका बजट विकास पर केंद्रित होगा।

उन्होंने कहा, ‘बजट पहला हो और आखिरी बार हो, मोदी का एक ही मंत्र है बजट विकास पर केंद्रित होगी।’

देखे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का इंटरव्यू-

इतना ही नहीं, पीएम मोदी द्वारा इंटरव्यू में रोजगार के मुद्दे पर दी एक टिप्पणी पर यूजर्स जमकर मज़ाक उड़ाया है। जहां पीएम मोदी ने कहा कि छोटा व्यवसाय करने वाले भी रोजगार के अवसर पैदा कर रहे हैं।

इसी मामले पर उन्होंने आगे कहा कि, कोई मुझे बताए कि अगर आपके जी टीवी के बाहर किसी ने पकौड़े की दुकान लगाई और शाम को वह 200 रुपए कमाकर घर गया, इसको आप रोजगार कहेंगे कि नहीं कहेंगे? किस रजिस्टर में लिखा होगा कि यहां कोई व्यक्ति 200 रुपए रोज कमाता है। यह सीधी-सीधी समझ का विषय है कि बैंक से 10 करोड़ लोगों को पैसा दिया गया है, मतलब इतने सारे लोगों ने रोजी-रोटी पाई है।

पीएम की इसी टिप्पणी पर सोशल मीडिया यूजर्स ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जमकर मजाक उड़ाया। वहीं, कई यूजर्स ने उनके दावों का मजाक उड़ाते हुए उन पर तंज भी कसा।

वहीं, शहला राशिद ने ट्वीट कर लिखा कि यूं तो यह पूरा इंटरव्यू पहले से तय था, फिर भी मोदी ने किसी सवाल का सही जवाब नहीं दिया।

1 COMMENT

  1. मतलब! इतना पढ़ाई के बाद ठेला मे पकोड़े बचेंगे, और उनको ये सरकार बोंलेंगे रोजगार दिए हैं, वाह मोदीजी बहुत अच्छा बोले हैं। बोले थे एक करोड़ रोजगार देंगे, पहले बोलते तो एक ठो पकोड़े का दुकान संसद भवन के पास, एक ठो उ अपन कॉलेज के पास खोल देते। साला पहले पता होता कि पकोड़ा बनाना भी युवा रोजगार के अंदर आता है, तो क़सम से हम भी एक ऐप्प बना कर पकोड़ा ऑनलाइन डिलीवरी करवाते।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here