Former BJP MLA jail
Former BJP MLA jail

Former BJP MLA jail

2009 के लोक सभा चुनाव में वोटर्स को घुस देने के आरोप में अदालत ने गुजरात विधानसभा के नवनियुक्त प्रोटेम स्पीकर और अनुभवी भाजपा विधायक निंबेन आचार्य और दो अन्य को आचार संहिता के उल्लंघन मामले में एक साल जेल की सजा सुनाई है।

Download Our Android App Online Hindi News

मोरबी मजिस्ट्रेट की अदालत ने पूर्व विधायक और एक अन्य व्यक्ति समेत सभी को सजा सुनाते हुए 30 दिनों के अंदर आदेश को चुनौती देने का अवसर दिया है। कच्छ जिले के भुज से विधायक आचार्य, पूर्व भाजपा विधायक कांति अमरुतिया और पाटीदार अनामत आंदोलन के संयोजक मनोज पानारा पर दो-दो हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है।

यह मामला सौराष्ट्र के मोरबी संसदीय क्षेत्र में 2009 के लोकसभा चुनाव से संबंधित है, जहां निंबेन, अमरुतिया और पानारा चुनाव प्रचार कर रहे थे। अमरुतिया मोरबी के पूर्व विधायक हैं। अदालत ने इन्हें 2009 के लोकसभा चुनाव में मतदाताओं को रिश्वत देने की कोशिश करने का दोषी पाया है।

Former BJP MLA jail

खबर के मुताबिक, 3 मार्च 2009 को बीजेपी कार्यकर्ताओं की एक मीटिंग के दौरान भूज से तत्कालीन बीजेपी एमएलए कांति अमरुतिया और मोरबी के तत्कालीन विधायक निंबेन आचार्य ने पार्टी कार्यकर्ताओं से यह वादा किया था। उस वक्त ए जे पटेल मोरबी के कलेक्टर और कच्छ लोकसभा सीट के सहायक रिटर्निंग ऑफिसर थे। उन्हीं के द्वारा 25 मार्च 2009 को ये शिकायत दर्ज कराई गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here