Supreme Court issues notice JK govt
Supreme Court issues notice JK govt

Supreme Court issues notice JK govt

जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में 8 साल की नाबालिग मासूम बच्ची के साथ हुए गैंगरेप और हत्या का मामले से जुड़ी दो अलग-अलग याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार (16 अप्रैल) को जम्मू-कश्मीर सरकार को नोटिस जारी किया है।

Download Our Android App Online Hindi News

खबर के मुताबिक, सुप्रीम कोर्ट ने पीड़ित परिवार को सुरक्षा देने के आदेश दिए हैं। पीड़ित परिवार के साथ-साथ वकील दीपिका सिंह को भी पुलिस सुरक्षा मिलेगी। मामले की अगली सुनवाई 27 अप्रैल को होगी।

न्यूज एजेंसी भाषा के हवाले से जनता का रिपोर्टर में छपी खबर के मुताबिक, शीर्ष अदालत ने पीड़ित के परिवार के इस अनुरोध पर भी गौर किया कि मुकदमे को कठुआ से चंडीगढ़ स्थानांतरित कर दिया जाए। न्यायालय ने इस पर राज्य सरकार से जवाब मांगा है। इस मामले में अब 27 अप्रैल को आगे सुनवाई होगी।

प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति ए. एम. खानविलकर और न्यायमूर्ति धनन्जय वाई. चन्द्रचूड़ की तीन सदस्यीय खंडपीठ के समक्ष सुनवाई के दौरान पीडि़त के पिता ने जम्मू कश्मीर पुलिस की जांच पर संतोष व्यक्त किया और आरोपियों द्वारा इसकी जांच सीबीआई को सौंपने के अनुरोध का विरोध किया।

Supreme Court issues notice JK govt

जनता का रिपोर्टर की खबर के मुताबिक, पीठ ने राज्य सरकार को निर्देश दिया कि इस मामले में आरोपी किशोर को सुधार गृह में पर्याप्त सुरक्षा प्रदान की जाए। पीठ ने यह भी कहा कि पीड़ित के परिवार के सदस्यों तथा दूसरों को सुरक्षा प्रदान करने वाले पुलिसकर्मी सादे कपड़ों में होंगे।

बता दें कि दोनों याचिकाओं में से एक याचिका सामूहिक दुष्कर्म और हत्या का शिकार हुई बच्ची के परिवार का प्रतिनिधित्व करने वाली कठुआ की वकील दीपिका सिंह राजावत ने दायर की है। उन्होंने याचिका में मामले की पैरवी करने पर अपनी जान को खतरा बताया है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here