Karnataka Congress JDS alliance
Karnataka Congress JDS alliance

Karnataka Congress JDS alliance

कर्नाटक विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (BJP) भले ही सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है लेकिन बहुमत हासिल नहीं कर पाई है। ऐसे में बहुमत से कुछ कदम दूर खड़ी भाजपा के लिए सबसे बड़ा सदमा होगा कि जेडीएस और कांग्रेस मिलकर साथ में सरकार बना लें। दरअसल, कांग्रेस ने जेडीएस को पूर्ण समर्थन देने का ऐलान कर दिया है।

Download Our Android App Online Hindi News

बोलता यूपी.कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले चुनावों से सबक लेते हुए कांग्रेस ने पहले से ही इसकी तैयारी कर ली थी और दिल्ली से गुलाम नबी आजाद को भेज कर जेडीएस से संपर्क साधा। सूत्रों के मुताबिक , गुलाम नबी आजाद ने जेडीएस के साथ मिलकर सरकार बनाने का ऑफर किया है। वर्तमान स्थिति में कांग्रेस और जेडीएस मिलने पर 114 सीटें हो जाएंगी जो बहुमत के आंकड़े 112 से ज्यादा है।

हालांकि बड़ी संभावना जताई जा रही है कि जेडीएस सिर्फ इस शर्त पर मानी है कि कुमार स्वामी मुख्यमंत्री होंगे। भाजपा को सत्ता में आने से रोकने के लिए कांग्रेस संभवतः इस शर्त को भी स्वीकार रही है।

Karnataka Congress JDS alliance

वहीं, फर्स्टपोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, सूत्रों का कहना है कि सोनिया गांधी ने गुलाम नबी आजाद और केसी वेणुगोपाल को जेडीएस चीफ एचडी देवगौड़ा से बात करने का निर्देश दिया है। कांग्रेस हर वो मुमकिन संभावनाएं तलाश रही है ताकि जेडी(एस) के साथ मिलकर सरकार बना सके।

कांग्रेस ने जेडीएस को पूर्ण समर्थन देने का ऐलान कर दिया है। शाम 4 बजे कर्नाटक के सीएम सिद्धरमैया गवर्नर बज्जू भाई बाला को अपना इस्तीफा सौंपेंगे। उसके बाद यह गवर्नर के ऊपर है कि वह सरकार बनाने के लिए बीजेपी को बुलाती है या कांग्रेस और जेडीएस गठजोड़ आगे बढ़ता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here